मध्य प्रदेश में सरकारी नौकरी में बाहरी युवाओं की उम्र घटाई

प्रदेश सरकार के नये फरमान से अब दूसरे राज्यों से नौकरी के लिये आने वाले प्रतियोगियों को मौका नहीं मिलोगा। राज्य लोकसेवा आयोग के नये आदेश में सरकारी नौकरी के लिए दूसरे राज्यों के युवाओं की उम्र सीमा अब 35 से घटाकर 28 साल करदी है। राज्य के युवाओं को नौकरी के ज्यादा अवसर देने के लिए सरकार भर्ती नियमों में बदलाव किया जा रहा है। वही तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के शासकीय पदों के लिए भी अधिकतम उम्र सीमा 25 साल होगी। देश में अन्य राज्यों में बाहरी युवाओं के लिये अधिकतम आयु सीमा 30 साल है।

राज्य सरकार का यह फरमान पहली बार नहीं आया है इससे पहले एमपीपीएससी ने 13 जनवरी 2016 को भी एक आदेश जारी कर बाहरी प्रतियोगियों की उम्र 40 से 35 वर्ष कर दी थी। अब नये आदेश के तहत राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा होने वाली सीधी भर्ती में न्यूनतम आयु सीमा 21 और अधिकतम 28 वर्ष होगी और तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के लिए न्यूनतम आयु सीमा 18 और अधिकतम 25 वर्ष रहेगी। इसके साथ ही सरकार ने एक और नया नियम बनाते हुए कहा है कि तृतीय और चतुर्थ पदों के लिए रोजगार कार्यालय में जीवित पंजीयन होना चाहिये। ये नया नियम इसलिये जोड़ा गया है कि प्रदेश के युवाओं को नौकरी के अधिक अवसर मिल सकें। सरकार के नये फरमान से प्रदेश के युवाओं को मिलने वाली छूट पहले की तरह ही मिलती रहेगी और प्रदेश के युवा विभिन्न वर्गों में अधिकतम 45 वर्ष तक परीक्षा दे सकेंगे।

(Visited 8 times, 1 visits today)