फिर भाजपाई निकला सेक्स रैकेट सरगना, महाराष्ट्र मेघालय की लड़कियों को छुड़ाया

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पकडे गए सेक्स रैकेट का सरगना भाजपा का ही पदाधिकारी निकला है। इससे पहले भाजपा का ध्रुव सक्सेना आईएसआई जासूस कांड में पकड़ा जा चुका है , बीजेपी ने सेक्स रैकेट मे पकड़े गए पदाधिकारी को आनन फानन में  पार्टी से निकाल दिया है।

सेक्स रैकेट में मप्र अनुसूचित जाति मोर्चा के मीडिया प्रभारी नीरज शाक्य को गिरफ्तारी किया है। वहीं कांग्रेस ने कहा है कि इस घटना से बीजेपी का चाल चरित्र और चेहरा उजागर हुआ है। पुलिस की सायबर सेल ने इस हाई प्रोफ़ाइल सेक्स रैकेट का पर्दाफास किया है जो लड़कियों को नौकरी का झांसा देकर देह व्यापार में धकेल देता था, भोपाल शहर की पॉस कॉलोनी अरेरा कॉलोनी से पूरे रैकेट को चलाया जाता था पुलिस ने मौके से 9 लोगो को गिरफ्तार किया है और देश के कई राज्यों की लड़कियों को बरामद किया है

एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान के मुताबिक गिरोह में सबके काम बंटे हुए थे कुछ लोग नौकरी देने वाली वेबसाईटों पर नज़र रखते थे और रिज्यूमे निकलने के बाद ऐसी लड़कियों को होटल में रिसेप्शनिस्ट, कॉल सेन्टर, और ब्यूटी पार्लर में अच्छी तन्खा की नौकरी का झांसा देते थे, जब लड़कियों जाल में फंस जाती तो उनको भोपाल बुला लिया जाता और देह व्यापार में धकेल दिया जाता, इस गिरोह के निशाने पर कर महाराष्ट्र, मेघालय, पूर्वोत्तर की लड़कियां ज्यादा रहती थी ।
पुलिस ने दबिश देकर दिनेश , सुरेश, रवि, हरजीत धनवानी, मनोज कुमार गुप्ता, कृष्ण कुमार जायसवाल, सुरेश बेलानी, मिसबा उद्दीन, नीरज शाक्या को गिर तार किया गया है। सुभाष उर्फ वीर फरार है। और महाराष्ट और मेघालय की चार युवतियों को मुक्त करा दिया हैउसकी तलाश की जा रही है। ने बताया कि गिरोह के तार देश के अन्य प्रांतों से भी जुड़े हो सकते हैं।

(Visited 8 times, 1 visits today)