Crime

शिवराजमल का गठन पूर्व सीएम कमलनाथ ने कसा तंज-आगे आगे देखिए …? | bhopal – समाचार हिंदी में


भोपाल.शिवराजगढ़ (शिवराज कैबिनेट) के लगभग महीने भर बाद गठन पर कांग्रेस (कांग्रेस) ने चुटकी ली है। पूर्व सीएम कमलनाथ ने सवाल उठाया कि महीने भर बाद भी बीजेपी सिर्फ 5 मंत्री ही बना पायी और अपने कद्दावर नेताओं को बाहर रखकर दलबदलुओं को तरजीह दी गयी। कमलनाथ ने कहा कि आगे-आगे देखिए कितने दिन सरकार चले गए हैं।

पूर्व सीएम कमलनाथ ने लिखा-कोरोना महामारी के संकट के इस दौर में आज के गठन में भाजपा ने प्रदेश की 7.5 करोड़ जनता के साथ मज़ाक़ किया। एक महीने बाद चुनाव का गठन वो भी सिर्फ़ 5 मंत्री और विभाग का बंट्टारा नहीं? समझा जा सकता है कि भाजपा में कितनी अंतरद्वंद चल रही है, कितनी आंतरिक संघर्ष चल रही है।

बीजेपी में आंतरिक लड़ाई

कमलनाथ ने आगे लिखा-प्रलोभन का खेल खेलकर में उन्होंने कांग्रेस की स्थिर सरकार तो गिरा दी, अपनी सरकार बना ली। लेकिन यह सरकार ये गईएंगे कैसे? कितने दिन चले गए? आगे-आगे देखिए? उन्होंने लिखा है कि जिन्द के गठन से ही बीजेपी के संघर्ष की वास्तविकता सामने आ चुकी है।

बीजेपी नेता बाहर-दलबदलू अंदर

पूर्व सीएम कमलनाथ ने लिखा-आज के काल गठन में ही भाजपा के कई ज़मीनी संघर्ष करने वाले अनुभवी, निष्पक्ष, योग्य, निवेशक के इस दौर में जिनके अनुभव की आज आवश्यकता थी, उन सब नदारद और जो हालात में भाग खड़े हुए वे अंदर हैं। ।

तन्खा ने कहा-असंवैधानिक

राज्य सभा सांसद और कांग्रेस नेता विवेक तन्खा ने भी शिवराजगढ़ के गठन पर ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की। उन्होंने गठित को बताया असंवैधानिक बताया। तन्खा ने कॉन्स्ट की धारा 164 ए का हवाला देकर कहा कम से कम 12 मंत्री बन रहे थे। उन्होंने सवाल उठाया कि बीजेपी को संवैधानिक प्रावधानों से परहेज क्यों हैं? उन्होंने कमलनाथ सरकार गिराने में महत्वपूर्ण भूमिका में रहे काँग्रेस से बीजेपी में बाकी वरिष्ठ लोगों की अनुपस्थिति पर भी तंज कसा। विवेक तन्खा ने उम्मीद जताई कि – कोरोना की इस महामारी के कारण मृत्यु के तांडव से प्रदेश जीतेगा।

ये भी पढ़ें-

शिवराज सरकार में विभागों के बजाए मंत्रियों को हुआ संभाग का बंटवारा

शिवराज ने आखिरकार मिनी मिनी का गठन, सिंधिया समर्थकों का बोलबाला





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *