जबलपुर: कोरोना को लेकर सरकार ने हाईकोर्ट में पेश की 38 पेजों की स्टेटस रिपोर्ट
Madhya Pradesh

जबलपुर: कोरोना को लेकर सरकार ने हाईकोर्ट में पेश की 38 पेजों की स्टेटस रिपोर्ट

जबलपुर। विश्वव्यापी महामारी कोरोनावायरस को लेकर बुधवार को मध्य प्रदेश सरकार ने जबलपुर हाईकोर्ट में 38 पन्नों की स्टेटस रिपोर्ट पेश की। सरकार ने अदालत को बताया कि किस तरीके से कोरोना से निपटने के लिए राज्य सरकार ने ऐहतियातन कदम उठाए हैं। इस रिपोर्ट मे महाधिवक्ता पुरुषेन्द्र कौरव ने लॉकडाउन लगने से अब तक लिए गए मानदंड और कोरोना संक्रमण के दायरे में आए प्रदेश के कई जिलों की स्थिति को हरा, ऑर्गन सहित रेड जोन की रूप् मे मे प्रस्तुत किया। सरकार ने अदालत को ये भी बताया कि अब प्रदेश मे 11 अरब स्थापित किए गए जिनमें कोरोना की जांच की जा रही है। साथ ही कोरोना संक्रमण के कारण डिजास्टर प्रबंधन के तहत किए गए बदलावों पर भी अदालत को जानकारी दी गई।

गृह, स्वास्थ्य और जेल विभाग की विस्तृत रिपोर्ट की गई

अपने जवाब में सरकार ने स्वास्थ्य, गृह और जेल विभाग के विस्तृत रिपोर्ट की भी जानकारी दी और कोरोना से निपटने के लिए महत्वपूर्ण कदमों को बताया। हालांकि कोरोना को लेकर हुई सुनवाई में पूर्व वित्त एवं स्वास्थ्य मंत्री तरुण भोनात द्वारा भी एक याचिका दायर कर करलाइन में काम करने वाले पुलिसकर्मी, स्वास्थ्यकर्मी, सफाईकर्मियों के स्वास्थ्य के प्रति चिंता जाहिर की गई थी। इस मामले में पैरवी कर रहे पूर्व महाधिवक्ता शशांक शेखर ने बताया कि इन कर्मचारियों के लिए पर्याप्त पीपीई किट की व्यवस्था न होने का मुददा याचिका में उठाया गया है, जिस पर अदालत ने गंभीरता दिखाते हुए नोटिस जारी किए हैं।

हाईकोर्ट ने पांच बिंदुओं पर अमल करने को कहाहालांकि हाईकोर्ट ने बुधवार को हुई सुनवाई के दौरान 5 बिंदूओं पर अमल करने के आदेश राज्य सरकार को दिए हैं। आदेश में कहा गया है कि प्रदेश में कही भी अवैधानिक परिवहन की अनुमति नहीं दी जाएगी। किसी भी तरह के ट्रांस्पोर्टेशन के लिए ड्राईवर का मेडिकल चैकअप होना अनिवार्य होगा। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की संख्या ज्यादा या कम होने पर लाल, ऑरेंज और ग्रीन जोन की पणति लागू हो। दूसरी तरफ जबलपुर के मेडिकल कॉलेज अस्पताल से भागे जावेद के मामले में सरकार से दो दिनों में रिपोर्ट अदालत में पेश करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने प्रदेश में सफाई व्यवस्था सहित लॉकडाउन के तमाम दिशा निर्देशों का पालन करने की बात भी कही गई है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *