Breaking News

आखिरकार राज्यपाल टंडन से मिलने पहुंचे विधानसभा अध्यक्ष

भोपाल। राज्यपाल लालजी टंडन की नाराजगी दूर करने आखिर एमपी विधानसभा के अध्यक्ष एनपी प्रजापति राजभवन पहुंच ही गये……राजभवन में सौजन्य भेंट में दोनों की क्या बात हुई ये पता नहीं चल सका पर ये माना जा रहा है कि प्रहलात लोधी की विधायकी जाने के बाद राजभवन और विधानसभा के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा था। और राज्यपाल पहले ही विधानसभा अध्यक्ष को मिलने बुलाया था। और जब राज्यपाल के बुलावे पर विधानसभा अध्यक्ष उनसे मिलने नहीं पहुंचे थे। तो राज्यपाल नाराजगी भी जता चुके थे ।

दरअसल मध्य प्रदेश के पन्ना जिले की पवई विधानसभा से भाजपा विधायक प्रहलाद लोधी की सदस्यता रद्द होने के बाद विधायक लोधी हाई कोर्ट की शरण में गए थे। भाजपा के पवई से विधायक प्रहलाद लोधी को कोर्ट ने दो साल की सजा सुनाई थी। इस पर विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने विधायक की सदस्यता बर्खास्त कर दी थी। विधायक लोधी इस पर हाईकोर्ट चले गए, जहां कोर्ट ने उन्हें राहत देते हुए सजा पर कुछ समय के लिए रोक लगा दी थी।

भाजपा नेता के प्रतिनिधि मंडल ने राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात करने के बाद एक आवेदन दिया था। राज्यपाल ने विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति को 16 नवंबर को मिलने के लिए बुलाया था। लेकिन अध्यक्ष ने उस दिन व्यस्तात का कारण बताते हुए मुलाकात टाल दी। जिसके बाद वह अभी तक मिलने नहीं पहुंचे। उनके नहीं मिलने पर राज्यपाल ने गंभीर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने इस मुद्दे पर चुनाव आयोग के ओक पत्र लिखकर राय मांगी है। जिसमें उन्होंने पूछा है कि क्या हाईकोर्ट के स्टे के बाद क्या विधायक प्रहलाद लोधी सुचारू रूप से अपना कार्य कर रहे हैं। गौरतलब है कि भाजपा विधायक प्रहलाद लोधी तहसीलदार से मारपीट और बलवे के मामले में विशेष अदालत ने दोषी करार दिया था। इसके बाद उन्हें हाईकोर्ट से राहत मिल गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *